” सच्चाई के आगे सदैव बुराई परास्त होती है

” सच्चाई के आगे सदैव बुराई परास्त होती है

आज, राष्ट्रीय 0 Comment 4
आज का दिन मेरी जिंदगी में काफी महत्वपूर्ण है जानते है क्यों , इस दिन मेरे जीवन की बेशकीमती चीज मेरे बाबूजी स्वर्गीय हीरा पाल जी , 6 अगस्त 2006 की सुबह अचानक जिंदगी के उस सफर पर चले गए जहां से आजतक बस और बस उनका आशीर्वाद सदैव मिल रहा है , मै उनको दोस्तों और परिवार के साथ शत: शत: नमन : करता हूँ। 
उनका आशीर्वाद ही मेरे लिए काफी है मेरी ताकत है , उनके जीवन के आदर्श  और समाजिक  मार्गदर्शन मझे सदैव जीवन के पथ पर निरन्तर अग्रसर रखे हुए है।  वे सदैव कहते थे कि  ”  सच्चाई के आगे सदैव बुराई परास्त होती है ” चाहे बुराई कितनी भी ताकतवर क्यों न हो। उनका सादा जीवन , सबके मदद गार के तौर पर मैने देखा है , कोई रात में भी मदद मांगे तो तुरंत तैयार ,चलो भाई पहले चाय पियो फिर मदद का करवा आगे बढ़ता था। ऐसा था उनका जीवन। 
कर्नाटक के रायचूर में जन्मे और दिल्ली आ गए। और यहाँ  आईटीओ के निकट कोटला रोड स्थित बाल भवन में बच्चो के रेल वाले अंकल के नाम से जाने गए।  आज भी ऐसे दिल्ली वासी जब कभी अपने परिवार के साथ बाल भवन में  रैल की सवारी का आनंद लेने आते है पर  वहाँ ” रेल वाले अंकल ” को नहीं पाते तो जीवन में कुछ खोने का अहसास से खुद को बचा नहीं पाते। 
दोस्तों किसी भी रूप में हम उनको याद करते रहे , यही उनको  “सच्ची श्रद्धांजलि ” है।    
 
दीन दयाल 

Share.

Author

Leave a comment

ENTERTAINMENT

तब्बू की एंट्री से फिल्म ” दृश्यम ” ट्रैक पर आती है

देखी हुई बात जरूरी नहीं है कि सच हो, इस बात के इर्दगिर्द घूमती है फिल्म निर्देशक निशिकांत कामत की ...
Read More

ADVERTISE WITH US



COPYRIGHT © DAY NIGHT INDIA. All Rights Reserved.

24 X 7 Helpline Number
+91 - 8802078115

POWERED BY :Aaryawebsolution.in



Back to Top